up, doctor, HIV, injection, 40 people, health department, helth camp

यूपी में डॉक्टर की गलती से 40 लोग हुए एचआईवी के शिकार

यूपी से हाल ही में आई एक खबर ने सभी लोगों का दिल दहला कर रख दिया है। पिछले कुछ दिन पहले भी एचआईवी से संबंधित एक खबर यूपी के गोरखपुर जिले से सामने आई थी जिसमें 13 लोगों को एड्स की बिमारी से जूझना पड़ा था और अब फिर उत्तर प्रदेश के उन्नाव में गांव के 40 लोग संक्रमित सीरिंज लगने की वजह से एचआईवी पॉजिटिव पाए गए हैं।
यह मामला तब सामने आया था जब नवंबर 2017 में एक एनजीओ ने गांव में हेल्थ कैंप का आयोजन किया था।
संक्रमित सीरिंज लगाने का आरोप एक नीम-हकीम पर लगा है जो इन लोगों का किसी अन्य बीमारियों को लेकर इलाज कर रहा था। मीडिया खबरों के मुताबिक हकीम पर आरोप है कि उसने एक ही सीरिंज को कई बार इस्तेमाल किया जिसके कारण लोगों को एचआईवी हो गया।
इस मामले के सामने आने के बाद इसकी शिकायत स्वास्थ्य विभाग से की गई। स्वास्थ्य विभाग ने नीम-हकीम के खिलाफ केस दर्ज कराया है। इसी बीच इलाके के पार्षद सुनील भांगडमौ ने कहा कि अगर ठीक से टेस्ट किए जाएंगे तो कम से कम 500 एचआईवी के मामले सामने आएंगे। इस मामले के सामने आने के बाद से ही स्थानीय स्वास्थ्य प्रशासन द्वारा कई हेल्थ कैंप भी लगाए गए हैं ताकि एचआईवी जैसी खतरनाक बिमारी को और भी ज्यादा फैलने से रोका जा सके। इसी मामले पर अपनी बात रखते हुए कम्युनिटी हेल्थ सेंटर के मेंडिकल सुप्रींटेंडेंट प्रमोद कुमार का कहना था कि “जहां पर एचआईवी के मामले सामने आए हैं हमने वहां पर हेल्थ कैंप लगा दिए हैं। हमें इसके प्रशासन से निर्देश मिले हैं और अब हम इससे निपटने की योजना बना रहे हैं।”
आपको बता दें कि इसके अलावा सूबे के स्वास्थ्य मंत्री ने भी इस मामले की जांच को लेकर आश्वस्त कराया है। न्यूज एजेंसी से बातचीत करते हुए सिद्धार्थ नाथ सिंह ने कहा “इसकी पूरी जांच कराई जाएगी। इसके साथ ही आरोपी के खिलाफ भी सख्त कार्रवाई की जाएगी और जो भी बिना लाइसेंस के मेडिकल प्रैक्टिस कर रहे हैं उनपर भी कार्रवाई की जाएगी। यहां तक की आरोपी की पहचान हो गई है और उसे जल्द से जल्द पुलिस अपनी गिरफ्त में ले लेगी। पीड़ितों का इलाज कानपुर मेडिकल कॉलेज में कराया जा रहा है।”

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *