मध्य प्रदेश में हैवानियत, रेप का किया विरोध तो नाबालिग दलित लड़की को लगाई आग

देश में आए दिन हो रहे दलितों पर हमले रुकने का नाम नहीं ले रहे।अब  मध्‍य प्रदेश के राजगढ़ जिले में दिल दहला देने वाली एक घटना सामने आई। नाबालिग दलित लड़की को जिंदा जलाकर जान से मारने की कोशिश की गई है। इस घटना में बुरी तरह झुलसी किशोरी ने बताया, ‘मुझसे बलात्‍कार करने का प्रयास किया गया था, जिसका मैंने विरोध किया। इस पर आरोपी ने मेरे ऊपर केरोसिन का तेल उड़ेल कर आग लगा दी थी।’ पुलिस ने मामला दर्ज कर लिया है, लेकिन आरोपी को अभी तक गिरफ्तार नहीं किया जा सका है। अधिकारियों ने बताया क‍ि आरोपी को दबोचने के लिए कई टीमें बनाई गई हैं। मध्‍य प्रदेश में इस तरह की यह पहली घटना नहीं है। वर्ष 2012 में पश्चिमी निमाड़ जिले के कसरावद थाना क्षेत्र के सलाखेड़ी में एक नाबालिग छात्रा से दुष्‍कर्म की घटना सामने आई थी। आरोपी ने पीड़िता को जिंदा जला दिया था। हादसे में बुरी तरह झुलसी 10वीं की छात्रा ने अस्‍पताल में दम तोड़ दिया था। लोगों ने इस घटना पर कड़ी प्रतिक्रिया जताई है। एक ट्वीट में महिला ने कहा ‘…और हमें राष्‍ट्रमाता पद्मावती की रक्षा करनी है।’ पीड़‍िता की जात‍ि उजागर करने पर भी आपत्ति जताई गई है।

पिछले साल दिसंबर में भी एक किशोरी से दुष्‍कर्म के बाद उसे जिंदा जलाने की घटना सामने आई थी। सागर जिले में आरोपियों ने आठवीं कक्षा में पढ़ने वाली नाबालिग के साथ दुष्‍कर्म किया था। पीड़‍िता के शोर मचाने पर आरोपियों ने उस पर मिट्टी का तेल छिड़क कर आग लगा दी थी। नाबालिग के परिजनों ने बताया था कि हादसे के वक्‍त वह घर पर अकेली थी। उसी वक्‍त वहां पर दो युवक पहुंचे और उससे छेड़छाड़ करने लगे थे। पड़ोसियों ने आकर आग बुझाई थी। राष्ट्रीय अपराध रिकॉर्ड ब्यूरो (एनसीआरबी) द्वारा पिछले साल जारी हुए आंकड़ों में मध्‍य प्रदेश में दुष्‍कर्म के सबसे ज्‍यादा मामले सामने आए थे।We always let you https://pro-essay-writer.com/ know exactly what part of your work has already been done and what is being done at the moment

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *