मायावती का बीजेपी पर हमला, मध्य प्रदेश के किसानों को बताया सबसे ज्यादा दुखी

बसपा प्रमुख मायावती ने रविवार को कहा कि मध्य प्रदेश एक कृषि प्रधान राज्य है और राज्य सरकार की प्राथमिकता किसान तथा मजदूर हितैषी होनी चाहिये लेकिन वहां भाजपा के शासनकाल में ख़ासकर किसान तथा खेतिहर मजदूर वर्ग के लोग सबसे ज़्यादा दुःखी और परेशान हैं। साथ ही मायावती ने मध्य प्रदेश में बसपा के पदाधिकारियों के साथ बैठक की और पार्टी संगठन की तैयारियों तथा पूरे समाज में पार्टी के जनाधार को मज़बूत बनाने के साथ-साथ इसी वर्ष वहां होने वाले विधानसभा चुनाव को पूरी तैयारी के साथ लड़ने के संबंध में गहन चर्चा की। मायावती ने कहा कि जब किसान तथा खेतिहर मजदूर वर्ग के लोग अपनी मांगों के समर्थन में आन्दोलन के लिए सड़क पर उतरते हैं तो तब उन्हें सरकार अपनी मनमानी तरीके से चलाती है तथा जुल्म-ज्यादती का शिकार बनाती है, जो काफी दुर्भाग्यपूर्ण स्थिति है।

भाजपा पर मायावती ने आरोप लगाते हुए कहा कि मध्य प्रदेश में भी भाजपा की सरकार खासकर यहां दलितों, पिछड़ों, मुस्लिम तथा अन्य धार्मिक अल्पसंख्यकों आदि के साथ-साथ किसान वर्ग के साथ भी बर्बर व्यवहार कर रही है। इतना ही नहीं बल्कि आरएसएस की संकीर्ण, नफरत तथा विघटनकारी सोच को सर्वसमाज के लोगों पर जबरदस्ती थोपने के लिये संविधान तथा कानून को पूरी तरह से ताक पर रख दिया गया है। साथ ही कहा, मध्य प्रदेश में कानून-व्यवस्था की स्थिति भी अच्छी नहीं है।

मायावती ने कहा कि राजस्थान की तरह ही दूसरे पड़ोसी राज्य मध्य प्रदेश में भी भाजपा की जनविरोधी सरकार जाने वाली है। वहां होने वाले इस सुखद परिवर्तन में बसपा को अपनी ख़ास भूमिका निभानी है।

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *