two most famous poet pramod tiwari and K D Sharma leave the world

साहित्य जगत में पसरा सन्नाटा, अलविदा कह गए दो प्रसिद्ध कवि

आज साहित्य एक अलग स्तर पर आकर खड़ा है। हमारे भारत देश के युवा भी अपनी हिंदू और उर्दू भाषा को काफी अच्छे से पहचानने लगे है। सोशल मीडिया के माध्यम से आजकल सभी युवा लड़के-लड़कियां अफनी लिखी गई कविताएं दुनिया के समझ प्रस्तुत करते है। लेकिन एक ऐसी खबर साहित्य जगत से आ गई है जिसने पूरे साहित्य जगत में सन्नाटा छा गया है।

आपको बता दें कि उत्तर प्रदेश के उन्नाव जिले में एक सड़क दुर्घटना में कवि प्रमोद तिवारी और अवध क्षेत्र के हास्य कवि केडी शर्मा हाहाकारी का दुखद निधन हो गया। हादसा लखनऊ-कानपुर राष्ट्रीय राजमार्ग पर अचलगंज थाना क्षेत्र के बदरका चौराहे पर सोमवार तड़के हुआ था। ट्रक और कार की टक्कर इतनी जबरदस्त हुई थी कि कार के परखच्चे उड़ गए। दोनों कवि कार के जरिए रायबरेली के लालगंज से कवि सम्मेलन में भाग लेकर वापस अपने घर की तरह लौट रहे थे।

इन दोनों कवियों की निधन की खबर के बाद से साहित्य जगत में सन्नाटा पसर गया। मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। परिजनों का रो-रोकर काफी बुरा हाल था। जाने माने कवि और खुद को कबीर के वंशज बताने वाले कुमार विश्वास ने ट्विटर पर दोनों कवियों के निधन पर दुख व्यक्त भी किया है।

अधिक जानकारी के लिए आपको बता दें कि कवि मनोज तिवारी को आप वो गुड़िया वाले दिन और राहों में रिश्ते वाली कविताओं से जानते होंगे। उनकी एक प्रसिद्ध मुक्तक है

“जुल्फ जो तुमने लहरा के बिखराली है…
  अरे काली काली आंधी आने वाली है…
  तेरे मेरे बीच कोई तो रिश्ता है…
  अरे वरना कैसे खेतों में हरियाली है…”

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *