Thursday, December 13, 2018
there is no religion for terrorist

मक्का, मालेगांव, अक्षरधाम, मुंबई, दिल्ली, बेंगलुरु, हैदराबाद कहीं भी किसी भी बड़े आतंकी हमले को अंजाम दिया जाता है तो सबसे पहले मुसलमानों के अंदर एक ऐसा डर बैठ जाता है जिसे समझ पाना आमतौर पर काफी मुश्किल होता है। भारत में जब भी कोई आतंकी हमला हुआ है तो उसके बाद से हमारे छोटी सोच […]

Read More

21वीं सदी चल रही है विश्व में एक से बड़कर एक मुकाम हासिल किए जा रहे हैं ऐसा नहीं कि भारत तरक्की नहीं कर रहा है भारत भी तरक्की कर रहा है। एक से बढ़ के एक मुकाम हासिल किए जा रहे हैं वो मुकाम और भी तेजी से हासिल किए जा सकते हैं, भारत […]

Read More

इस लेख के माध्यम से मैं भारत में लाशो पर राजनीति करने वालो की विचार धारा से आप को अवगत कराना चाहता हुं। मेरे मन मे एक छोटी सी जिज्ञासा थी लोगो को समझने की ये कैसा देश बन गया है जो कि लाशो पे राजनीति करने का एक फैशन बन गया है, एक आतंकी […]

Read More

आज सभी शिक्षित, बुध्दिजीवी वरिष्ठ, युवा , अनुभवी राजनेतिक या सामाजिक अम्बेकरवादी संगठन *आरक्षण* को लेकर चिंतित है ओर इसे बचाने इसकी सुरक्षा हेतु किसी मंच पर बात न हो ये तो सम्भव ही नही है। हम सभी इस बात से डरते हैं कि किसी दिन पूरी तरह *आरक्षण* खत्म न कर दिया जाए और […]

Read More

नई दिल्ली: पीएमसीएच में एमडी  के एग्जाम में गोल्ड मेडलिस्ट बने डॉ. आलोक रविदास बताते हैं कि उन्हें थ्योरी में ज्यादा नंबर मिले, इसी कारण वे गोल्ड मेडलिस्ट बन पाए। अपनी इस कामयाबी के बारे में डॉ. आलोक बताते हुए कहते हैं कि पिछले साल  नवंबर  में बिहार के सबसे बड़े अस्पताल पीएमसीएच के प्रिंसिपल […]

Read More

(लेखक दीपक)                                      इतिहास से लेकर आने वाले भविष्य तक किसी भी देश या किसी भी संस्कृति की एहम जरूरत है युवा पीड़ी| युवाओ के दम पर ही एक देश अपना विकास कर सकता है या फिर अपना नाश […]

Read More