Rahul Gandhi,PNB SCAM,Arun Jaitley, nation time hindi news, nation time news

पीएनबी महाघोटाले को लेकर राहुल गांधी ने अरुण जेटली पर कसा तंज

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने पीएनबी महाघोटाले को लेकर वित्त मंत्री अरुण जेटली पर हमला बोला है और राहुल गांधी ने एक ट्वीट पर प्रतिक्रिया देते हुए यह कहा कि  “अब यह सामने आ चुका है कि पीएनबी घोटाले पर हमारे वित्त मंत्री की चुप्पी उनकी वकील बेटी को बचाने को लेकर थी, जिन्हें इस घोटाले के सार्वजनिक होने से मात्र एक महीने पहले आरोपी ने मोटी फीस दी थी। जब आरोपी के दूसरे लॉ फर्मों पर सीबीआई द्वारा छापा मारा जा रहा है, तो उसके लॉ फर्म पर क्यों नहीं?” राहुल गांधी ने इस ट्वीट के साथ #ModiRobsIndia हैशटैग डाला है।

बता दें कि 11 हजार 400 करोड़ के पीएनबी घोटाले को लेकर कांग्रेस मोदी सरकार पर हमलावर है। कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी इस मामले में लगातार पीएम नरेंद्र मोदी और वित्त मंत्री अरुण जेटली से जवाब मांग रहे हैं।

राहुल गांधी द्वारा बोली गई यह बात कितनी सच साबित होती है। यह तो सीबीआई जांच की रिपोर्ट के बाद ही पता चल ही पाएगा लेकिन उससे पहले यह देखना बेहद दिलचस्प होगा कि वित्त मंत्री अरुण जेटली राहुल के इस बयान पर क्या प्रतिक्रिया देते है।

Rahul Gandhi,Maharashtra Kisan Movement,Maharashtra Kisan Movement in hindi, Rahul Gandhi spoke about Maharashtra Kisan Movement,Rahul Gandhi spoke about Maharashtra Kisan Movement in hindi, nation time hindi news, nation time news

महाराष्ट्र में किसान आंदोलन पर क्या बोलें राहुल गांधी?

महाराष्ट्र किसान आंदोलन पर कांग्रेस पार्टी के अध्यक्ष राहुल गांधी ने कहा कि “यह केवल राज्यों के किसानों का मसला नहीं है। यह मसला पूरे देश के किसानों का है”। कांग्रेस पार्टी की ओर राहुल गांधी लंबे अर्से से किसानों के मुद्दों पर अपनी बात रखते रहे हैं। एक बेबसाइट को दिए बयान में राहुल गांधी ने आज महाराष्ट्र के किसानों के आंदोलन पर अपनी बात कही है।

किसानों के आंदोलन को देखकर महाराष्ट्र सरकार भी ऐक्शन में आ गई है। किसानों की मांगों पर विचार के लिए फडणवीस सरकार ने एक कमेटी बनाई है। आपको बता दें कि किसानों का मोर्चा आजाद मैदान पहुंच चुका है। इस महामोर्चा में 50 हजार किसान शामिल हैं। किसानों ने आज महाराष्ट्र विधानसभा का ऐलान किया है। इसके साथ ही महाराष्ट्र की राजनीति में भी हलचल मच गई है। बताया जा रहा है कि मोर्चे के मुंबई पहुंचते ही कई राजनीतिक पार्टियों ने इस पदयात्रा का समर्थन भी किया।

अब देखना यह है कि यह आंदोलन कितने दिनों तक चलता है और क्या महाराष्ट्र सरकार किसानों की सारी मांगों को मान लेती है या फिर नहीं।

Rahul Gandhi, Congress Party, soniya gandhi, Rahul Gandhi Congress National President, Rahul Gandhi want to significant change,Rahul Gandhi want to significant change in hindi, nation time hindi news, nation time news

“राहुल गांधी” कांग्रेस पार्टी में चाहते हैं ‘अहम बदलाव’ जाने क्या है वजह?

कांग्रेस कें राष्ट्रीय अध्यक्ष बनने के बाद राहुल गांधी ने पार्टी में अहम बदलाव करने का मन बना लिया हैं। लेकिन इसको लेकर पार्टी के कुछ वरिष्ठ नेता राहुल गांधी से सहमत नहीं हैं। राहुल गांधी कांग्रेस पार्टी में सर्वोच्च निर्णय लेनी वाली संस्था कांग्रेस वर्किंग कमेटी (CWC) के 12 पदों के लिए चुनाव करवाना चाहते हैं। लेकिन उनके इस फैसले से दिग्गज कांग्रेस नेता सहमत नहीं है। पार्टी के वरिष्ठ नेता पहले की ही तरह नामांकन व्यवस्था को जारी रखना चाहते हैं।

बता दें राहुल गांधी की और 19 साल तक कांग्रेस अध्यक्ष रहीं सोनिया गांधी ने भी नामांकन व्यवस्था को बनाए रखा था और पुरानी परंपरा के अनुसार CWC सदस्यों का चुनाव किया गया। बता दें कांग्रेस की रूल-बुक में चुनाव में कराने का प्रावधान है लेकिन राहुल गांधी इसी को फॉलो करना चाहते हैं। कांग्रेस का आंतरिक संविधान कहता है कि CWC के दस सदस्य प्रतिनिधियों द्वारा चुने जाएं जबकि अन्य दस सदस्यों को पार्टी अध्यक्ष चुन सकता है। कांग्रेस अध्यक्ष की कमान संभालने के बाद राहुल गांधी अपने तरीके से देश की सबसे पुरानी पार्टी को मजबूत करने में जुटे हैं।

अब देखना यह है कि सालों से चली आ रही प्रक्रिया राहुल गांधी के कहने पर बदलती है या फिर CWC सदस्यों के चुनाव की प्रक्रिया पहले की ही तरह रहती है।

Hardik Patel , Patidar Annamat Agitation Committee, Priyanka Gandhi, rahul gandhi, nation time hindi news, nation time news

हार्दिक पटेल क्यों प्रियंका गांधी को राजनीति में देखना चाहते हैं?

पाटीदार अनामत आंदोलन समिति के नेता हार्दिक पटेल का बड़ा बयान सामने आया है। बता दें शुक्रवार को मुंबई में एक चर्चा के दौरान हार्दिक पटेल ने कहा कि वह कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी को अपना नेता नहीं मानते हैं। और  उन्होंने राहुल गांधी की बहन प्रियंका गांधी को राजनीति में सक्रिय नेता के तौर पर देखने की इच्छा जाहिर की। उन्होंने यह भी कहा कि “मैं राहुल गांधी को व्यक्तिगत तौर पर काफी पसंद करता हूं लेकिन मैं उन्हें एक नेता के तौर पर नहीं देखता। क्योंकि वह मेरे नेता नहीं हैं”।

हार्दिक का राहुल को अपना नेता नहीं मानने की पीछे की वजह तो उन्होंने नहीं बताई,पर लगता है। गुजरात विधानसभा चुनाव के दौरान राहुल गांधी के साथ काम करने के बाद उन्हें ऐसा महसूस हुआ होगा । बता दें  पटेल ने आगे यह कहा कि “कांग्रेस ने उनके आंदोलन को पूरी तरह से सपोर्ट किया था” ।

अब यह देखना दिलचस्प रहेगा कि हार्दिक पटेल के इस बयान पर कांग्रेस की तरफ से क्या प्रतिक्रिया आती है।

rahul gandhi become the president of congress and attacked at bjp

बतौर अध्यक्ष पहले भाषण में राहुल के निशाने पर बीजेपी, कहा – आग लगाते है पीएम मोदी

हाल ही में गुजरात चुनाव खत्म हुए है और 18 दिसंबर को चुनाव के परिणाम घोषित किए जाएंगे। इसी बीच आज राहुल गांधी ने कांग्रेस के अध्यक्ष पद की कमान आधिकारिक तौर पर संभाल ली है। कांग्रेस के नई दिल्ली स्थित मुख्यालय में आयोजित एक समारोह आयोजित किया गया जिसमें राहुल गांधी को कांग्रेस पार्टि का नया अध्यक्ष बनाया गया है। और इसका उन्हें सर्टिफिकेट भी दिया गया है।

आपको बता दें कि राहुल गांधी की ताजपोशी के दौरान कांग्रेस की पूर्व अध्यक्ष सोनिया गांधी, मोतीलाल वोरा, पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह, राहुल की बहन प्रियंका वाड्रा के साथ ही साथ कांग्रेस पार्टि के कई दिग्गज नेता भी मौजूद थे। राहुल गांधी को सर्टिफिकेट देकर आधिकारिक तौर पर पार्टी का राष्ट्रीय अध्यक्ष घोषित कर दिया गया हैं।

आपको बता दें कि अध्यक्ष पद संभालने के बाद राहुल गांधी ने कार्यकर्ताओं को भी संबोधित किया। इतना ही नहीं अपने बतौर अध्यक्ष दिए गए पहले ही भाषण में राहुल गांधी ने सीधा निशाना बीजेपी और प्रधानमंक्षी नरेंद्र मोदी पर साध दिया था। राहुल गांधी ने भाषण देते हुए कहा कि कांग्रेस पार्टी भारत को 21वीं सदी में लेकर आई है और प्रधानमंत्री मोदी पूरी कोशिश कर रहे है कि हमें एक बार फिर से मध्यकाल में ले कर चले जाए। इसके साथ ही बीजेपी पर जोरदार हमला करते हुए राहुल गांधी ने कहा हैं कि एक बार आग लग जाती है तो फिर उसे बुझाना काफी ज्यादा मुश्किल है। बीजेपी ने पूरे देश में ही आग लगा दी। राहुल ने कहा कि वो हमेशा आग लगाने का काम करते हैं और हम आग बुझाते हैं।

इसके आगे भाषण में राहुल ने कहा कि भारत में अगर कोई बीजेपी को आग फैलाने से रोक सकता है तो वो सिर्फ कांग्रेस के नेता और कार्यकर्ता ही है। हम कांग्रेस को ग्रैंड ओल्ड पार्टी एंड यंग पार्टी बनाने के कार्य में जुटे हुए है और गुस्सेल राजनीति के खिलाफ भी लड़ाई लड़ेंगे। इसी के साथ राहुल ने कहा कि बीजेपी के सभी लोग भी हमारे भाई-बहने ही है लेकिन हम उनसे सहमत किसी भी पक्ष में नहीं है और बीजेपी लोगों की आवाज को कुचलने का पूरा प्रयास कर रही है लेकिन हम लोगों को बोलने का पूरा मौका देते हैं।

आपको बता दें कि अभी तक तो राहुल गांधी कांग्रेस पार्टि के अंतरगत उपाध्यक्ष का पद संभालते हुए नजर आ रहे थे। सोमवार को राहुल गांधी को निर्विरोध देश की सबसे पुरानी राजनीतिक पार्टी का अध्यक्ष चुना गया था। कांग्रेस नेता मुल्लापल्ली रामचंद्रन का कहना था कि राहुल के पक्ष में 89 नामांकन प्रस्ताव शामिल थे। जिनमें से कुछ वैध भी मिले थे। गौरतलब है कि इससे पहले सोनिया गांधी कांग्रे की कमान 19 सालों से संभाल रही थी।

 

यात्रा पर गुजरात पहुचे राहुल गांधी, हार्दिक पटेल ने किया जोरदार स्वागत

अमेरिका दौरे से लौटे कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी अब राजनीतिक दांव पेंच दिखाने गुजरात पहुंच गए हैं। अमेरिका में पीएम मोदी और बीजेपी पर हमलावर होने के बाद राहुल गांधी ने अब गुजरात का रुख किया है।

अपनी तीन दिवसीय यात्रा पर गुजरात पहुंचे राहुल गांधी का जोरदार स्वागत किया गया। उनके आगमन से कांग्रेस खेमे में खाफी खुशी है। पाटीदार आरक्षण आंदोलन के अगुआ रहे हार्दिक पटेल ने भी ट्विट कर राहुल गांधी का स्वागत किया। पाटीदार आरक्षण आंदोलन के नेता हार्दिक पटेल ने जिस तरह से राहुल गांधी का स्वागत किया है उससे विपक्षी खेमे की नींद उड़ गई है। लोगों का मानना है कि राहुल गांधी को गुजरात में एक नया जोड़ीदार मिल गया है।

आपको बता दे कि राहुल का स्वागत करते हुए हार्दिक पटेल ने ट्वीट कर कहा, ‘कांग्रेस के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष राहुल जी का गुजरात में हार्दिक स्वागत है। राजनीतिक गलियारों में ये चर्चा होने लगी है कि अगर गुजरात में हार्दिक पटेल राहुल का साथ देते हैं तो बीजेपी की मुश्किलें बढ़ जाएंगी। साथ ही साथ गुजरात में अपनी सियासी जमीन तलाशने के लिए राहुल गांधी तीन दिनों की राज्य की यात्रा पर हैं। आज वह द्वारका के मंदिर में पूजा करने के बाद रोड शो करेंगे जिसके बाद एक रैली को भी संबोधित करने का कार्यक्रम है। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता शक्ति सिंह गोहिल के मुताबिक राहुल 25 सितंबर से लेकर 27 सितंबर तक गुजरात में रहेंगे।